Top online courses for Entrepreneurs in India | Best online courses with certificates in India 2022

Top online courses for Entrepreneurs in India

In this article you can find your query related to Top online courses for entrepreneurs in India, best online courses in India, best online course platforms in India, best online course for data science, top online courses in India, top online course platforms in India, top online courses for data science, best online courses for entrepreneurs, top online courses websites in India, best online courses websites in India, free online courses with certificates in India, best online courses with certificates in India, top online courses with certificates in India

Top online courses for Entrepreneurs

ऑनलाइन पाठ्यक्रमों (Online Courses) की सबसे अच्छी विशेषताओं (Features) में से एक यह है कि आप उन्हें किसी भी समय कहीं से भी एक्सेस (Access) कर सकते हैं। यह सीखने (Learning) के सबसे सुविधाजनक तरीकों (convenient ways) में से एक है, खासकर उन पेशेवरों (professionals) के लिए जो खुद को बेहतर बनाना चाहते हैं। 

Top online courses for Entrepreneurs in India
Top online Courses for Entrepreneurs

कठोर कार्य शेड्यूल (Rigid work schedules) के कारण नए पाठ्यक्रम (Courses) सीखना बंद करने के बजाय, भारत में पेशेवर (professionals) अब एक ऑनलाइन संस्थान (online institute) से ऑनलाइन पाठ्यक्रम (Online Course) ले सकते हैं और संबंधित क्षेत्रों में अपने कौशल (Skills) का उन्नयन (upgrade) कर सकते हैं।

Top 10 Online Courses in India

Ø  Artificial Intelligence
Ø  Data Science
Ø  Data Analytics
Ø  Graphic Design
Ø  Digital Marketing
Ø  Cyber Security
Ø  Web Development
Ø  Social Media Marketing
Ø  Programming
Ø  Foreign Language

Top online courses for Entrepreneurs

यहां उन पाठ्यक्रमों (Courses) की सूची दी गई है जिनके बारे में आप विस्तार से जानेंगे तो आइये शुरू करते हैं।

Artificial Intelligence

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Artificial Intelligence) भारत और अन्य जगहों पर सबसे कठिन पाठ्यक्रमों (Toughest Courses) में से एक है। ऐसा इसलिए है क्योंकि इस उभरती (Emerging) हुई तकनीक (Technology) का अभी भी पता लगाया जा रहा है, और यह कई संभावनाएं (possibilities) प्रदान कर सकती है जो हम केवल कुछ साल पहले (few years back) ही देख सकते थे। 

हालांकि, चूंकि इस पर अभी भी शोध (Research) किया जा रहा है, इसलिए आपको नवीनतम खोजों (latest discoveries), तकनीकों (Techniques) आदि से खुद को अपडेट (Update) रखना होगा, जो इसका एक हिस्सा (part) हैं।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Artificial Intelligence) एक विशाल डोमेन (Domain) है जो कंप्यूटर सिस्टम (Computer System) को अपने अनुभवों (experiences) से सीखने और विभिन्न व्यावसायिक कार्यों (business tasks) को करते समय मानवीय कार्यों (human actions) की नकल (mimic) करने में सक्षम बनाता है। 

मूल रूप से, यह तकनीक (Technology) पेशेवरों (Professionals) को मानव बुद्धि (human intelligence) को मशीनों में अनुकरण (simulate) करने की अनुमति देती है ताकि वे मनुष्यों (Humans) की तरह कार्य (Tasks) करने में सक्षम (Capable) हों। सेल्फ-ड्राइविंग कार (Self-driving cars), कंप्यूटर के साथ शतरंज खेलना (playing chess) आदि सभी इस ट्रेंडिंग तकनीक (Trending Technology) के विभिन्न प्रतिबिंब (reflections) हैं। 

एआई (AI) यह सब करने के लिए डीप लर्निंग तकनीक (Deep Learning techniques), तंत्रिका नेटवर्किंग (neural networking), मशीन लर्निंग एल्गोरिदम (Machine Learning algorithms), प्राकृतिक भाषा प्रसंस्करण (Natural Language Processing) और इसी तरह की अन्य तकनीकों (techniques) का उपयोग करता है। 

सरल शब्दों में, AI में ये प्रौद्योगिकियां (technologies) शामिल हैं, और यह डोमेन (Domain) अपने नवाचारों (innovations) के साथ हमारी कल्पना (imagination) से परे जा सकता है। 

Data Science

डेटा साइंस (Data Science), एक अंतःविषय (interdisciplinary) क्षेत्र, कई मशीन लर्निंग एल्गोरिदम (Machine Learning algorithms), टूल (Tools) और तकनीकों (Techniques) का मिश्रण है, जिसका उद्देश्य कच्चे (Raw) और असंरचित व्यावसायिक डेटा (unstructured business data) से रुझान (Trends) और पैटर्न (Patterns) निकालना है। 

डेटा साइंटिस्ट (Data Scientists) वे पेशेवर (professionals) होते हैं जो डेटा साइंस (Data Science) के अपने कौशल (Skills) और ज्ञान (Knowledge) का उपयोग करके जटिल व्यावसायिक समस्याओं (complex business problems) का समाधान करते हैं। 

इन पेशेवरों (professionals) को कई गणितीय (mathematical) और सांख्यिकीय तकनीकों (Statistical techniques) की विशेषज्ञ (Expert) समझ है, जिसके उपयोग से वे समस्याओं (problems) के निष्कर्ष (conclusions) निकालते हैं और संगठन (Organization) के Growth और development में मदद करते हैं।

डेटा साइंस (Data Science) आज सबसे अधिक मांग (demand) वाले करियर विकल्पों (career options) में से एक है। हर दिन कंपनियों में Data generation में तेजी से वृद्धि के साथ, यह महत्वपूर्ण है कि वे डेटा साइंस तकनीकों (Data Science techniques) का उपयोग उस डेटा (Data) का कुशलतापूर्वक (efficiently) उपयोग करने के लिए करें। 

ऐसा करने के लिए, बड़ी और छोटी दोनों कंपनियां डेटा वैज्ञानिकों (Data Scientists) की भर्ती करती हैं जो उन्हें इस डेटा (Data) को व्यवस्थित (Organize) करने, इसका विश्लेषण (Analyze) करने, उपयोगी जानकारी (Useful information) निकालने और इसकी पूरी क्षमता (Potential) का उपयोग करने में मदद कर सकते हैं। 

Data Analytics

डेटा एनालिटिक्स (Data Analytics) नियमित आधार पर कंपनियों (Companies) द्वारा उत्पन्न किए गए बिग डेटा (Big Data) को समझने के लिए जिम्मेदार (Responsible) है। यह डेटा (data) का एक क्षेत्र है जो परिणाम निकालने (draw results) और आवश्यक जानकारी (necessary information) निकालने के लिए कंपनी (Company) के डेटासेट (datasets) की जांच करने पर केंद्रित (Focus) है। 

कई डेटा एनालिटिक्स टूल (Data Analytics tools) और तकनीकें (Techniques) हैं जो पेशेवरों (professionals) को डेटा (data) से छिपे, अनदेखे पैटर्न (undiscovered patterns) खोजने की अनुमति देती हैं जो कई व्यावसायिक समस्याओं (business problems) को हल करने में मदद कर सकती हैं, जिससे यह अधिक कुशल (more efficient) और लाभदायक (profitable) बन जाता है।

डेटा विश्लेषक (Data Analysts) अपने शोध (Research) के दौरान कई तकनीकों (Techniques) का उपयोग करते हैं ताकि वे कंपनियों (Company) को सूचित व्यावसायिक निर्णय (business decisions) लेने में मदद कर सकें। डेटा (data) का विश्लेषण (Analyze) करने से कंपनियों को अपने ग्राहकों (Clients) की बेहतर समझ मिलेगी। 

वे अधिक अनुकूलित सामग्री (customized content) की पेशकश करने, अपने मार्केटिंग अभियानों (marketing campaigns) का मूल्यांकन (Evaluation) करने, नई विज्ञापन रणनीतियों (advertising strategies) के साथ आने आदि में सक्षम (Able) होंगे। यह संगठनों (Organizations) को अपने प्रदर्शन (Performance) को बढ़ावा (Boost) देने की अनुमति देगा। डेटा एनालिटिक्स (Data Analytics) को मोटे तौर पर निम्नलिखित श्रेणियों (categories) में विभाजित किया जा सकता है:

  • Prescriptive analytics
  • Predictive analytics
  • Diagnostic analytics
  • Descriptive analytics

Graphic Design

ग्राफिक डिजाइन (Graphic Design) उन पेशेवरों (professionals) के लिए उपयुक्त क्षेत्र है जो कलात्मक (Artistic) और रचनात्मक (Creative) हैं। इस क्षेत्र में, पेशेवर (professionals) संदेश भेजने के लिए छवियों (Images), इन्फोग्राफिक्स (Infographics) आदि के रूप में दृश्य सामग्री (visual content) बनाते हैं। 

यहां, आपको विभिन्न ग्राफिकल तकनीकों (graphical techniques) का उपयोग करने की आवश्यकता है, जैसे कि दृश्य पदानुक्रम (visual hierarchy), छवियों (Images) और पाठ (Text) पर जो आपको इंटरैक्टिव (interactive) और उपयोगकर्ता के अनुकूल (user-friendly) डिजाइन बनाने की अनुमति देगा। आपको ऐसे डिजाइन (Design) बनाने होंगे जो कंपनी (Company) और ग्राहकों (Clients) की जरूरतों को पूरा करेंगे। 

इस क्षेत्र में उच्च-भुगतान (High-Paying) वाली नौकरी (Jobs) पाने के लिए, आपको इस डोमेन (Domain) में एक या एक से अधिक टूल (Tools) में कुशल (Proficient) होना चाहिए, जिसमें PicsArt, Adobe Photoshop, Adobe Illustrator, आदि शामिल हैं।

एक ग्राफिक डिजाइनर (Graphic Designer) की मुख्य नौकरी (Job) आवश्यकता के अनुसार लोगो (Logo), पोस्टर (Poster), होर्डिंग (Billboards) आदि विकसित करना है। एक ग्राफिक डिजाइनर (Graphic Designer) के रूप में, आपको अपनी प्रोफ़ाइल (Profile) और क्षेत्र में अपने अनुभव (Experience) के आधार पर शीर्ष पत्रिकाओं (top magazines), मार्केटिंग एजेंसियों (marketing agencies) आदि के लिए काम करने का अवसर मिलेगा। 

आपकी नौकरी की भूमिका (Job role) के एक हिस्से में कंपनी के विज्ञापन (Advertising) और विपणन उद्देश्यों (marketing purposes) के लिए ब्रोशर (Brochures), फोटो (Photos), पत्रिकाएं (Magazines), लेआउट (Layouts) आदि का चयन करना भी शामिल है। 

Digital Marketing

इस डिजिटल युग (Digital Era) में, डिजिटल मार्केटिंग (Digital Marketing) विभिन्न कंपनियों के कई उत्पादों (products) और सेवाओं (services) के विपणन (Marketing) और विज्ञापन (Advertising) का सबसे अच्छा तरीका है। 

वेबसाइट (Websites), मोबाइल एप्लिकेशन (Mobile Applications), ईमेल (Email), सोशल मीडिया (Social Media), सर्च इंजन रैंकिंग (Search Engine Ranking) आदि जैसे विभिन्न प्रकार के उपलब्ध डिजिटल प्लेटफॉर्म (Digital Platforms) की मदद से, डिजिटल मार्केटर्स (Digital Marketers) अपनी कंपनियों की पेशकश (Offer) का विज्ञापन (Advertising) कर सकते हैं। 

अधिक से अधिक संगठनों (Organizations) के ऑनलाइन उपस्थिति (Online presence) बनाने और पारंपरिक डेटा (Traditional data) का उपयोग करते हुए पहले से कहीं अधिक संभावित ग्राहकों (Possible Clients) तक पहुंचने के साथ, डिजिटल मार्केटिंग (Digital Marketing) की आवश्यकता और मांग (demand) ऊंचाइयों पर पहुंच गई है।

डिजिटल मार्केटिंग (Digital Marketing) एक व्यापक क्षेत्र (Broad Field) है और इसमें ईमेल मार्केटिंग (Email Marketing), कंटेंट राइटिंग (Content Writing), सोशल मीडिया मार्केटिंग (Social Media marketing) (SMM), सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (Search Engine Optimization) (SEO) आदि शामिल हैं। 

हालांकि, डिजिटल मार्केटर (Digital Marketer) की मुख्य जिम्मेदारी (responsibility), चाहे वे जिस विभाग (Department) में काम करते हों, वह है ब्रांड (Brand) के बारे में व्यापक जागरूकता (broad awareness) पैदा करें और मुफ्त (Free) और सशुल्क (Paid) डिजिटल चैनलों (Digital Channels) के माध्यम से लीड (Lead) उत्पन्न करें। 

उन्हें जिस डिजिटल चैनल (Digital Channel) पर काम कर रहे हैं, उसके आधार पर संबंधित प्रमुख प्रदर्शन संकेतक (Key Performance Indicators) (KPI) पर ध्यान केंद्रित करने और प्रदर्शन (Performance) को मापने (measure) की आवश्यकता है। 

Cyber Security

साइबर सुरक्षा (Cyber Security) में विभिन्न प्रौद्योगिकियां (technologies), प्रथाएं (practices) और प्रक्रियाएं (processes) शामिल हैं जो किसी कंपनी (Company) के उपकरणों (Devices), डेटा (Data), Programs और नेटवर्क (Networks) को किसी भी क्षति (damage), हमले (Attack) या अनधिकृत पहुंच (unauthorized access) से बचाने में मदद करती हैं। 

यह क्षेत्र (Field) सभी प्रकार के डिजिटल (Digital) और साइबर हमलों (Cyber Attacks) से संगठनों (Organizations) के नेटवर्क (Network) और सिस्टम (System) की सुरक्षा (Security) से संबंधित है। ये साइबर हमले (Cyber Attacks) आम तौर पर संवेदनशील व्यावसायिक डेटा (sensitive business data) तक पहुंचने और भ्रष्ट (Corrupt) करने, पैसे निकालने आदि की योजना (plan) बनाते हैं।

साइबर सुरक्षा पेशेवर (Cyber Security professionals) ऐसे हमलों (Attacks) को रोकने और कंपनी की सुरक्षा (Security) के लिए जिम्मेदार हैं। आप India में ऑनलाइन साइबर सुरक्षा पाठ्यक्रम (online Cyber Security course) के लिए साइन अप (Sign up) करके इस आईटी (IT) क्षेत्र में एक प्रमाणित पेशेवर (certified professional) बन सकते हैं। 

Web Development

Web Development या वेबसाइट विकास (website development) एक ऐसा तरीका है जो पेशेवरों (professionals) को वेब पेज (web pages) बनाने और बनाए रखने की अनुमति देता है। एक वेबसाइट (website) को उपयोगकर्ता के अनुकूल (user friendly) और इंटरैक्टिव (interactive) बनाने के लिए, बहुत सारे काम होते हैं, जिससे यह उपयोगकर्ताओं (users) को एक सहज अनुभव (seamless experience) प्रदान करने के लिए अच्छा प्रदर्शन (perform) करता है। 

वेब डेवलपमेंट (Web Development) प्रोग्रामिंग भाषाओं (programming languages) का उपयोग करके इंटरनेट (Internet) पर एप्लिकेशन (Application) और वेबसाइट (Website) विकसित करने में मदद करता है। सभी वेबसाइट (Websites) और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म (social media platforms) जो हम ऑनलाइन (online) देखते हैं, वे वेब डेवलपमेंट भाषाओं (Web Development languages) और तकनीकों (Techniques) का उपयोग करके बनाए गए हैं।

वेब डेवलपर (Web Developers) या प्रोग्रामर (Programmers) ऐसे पेशेवर (professionals) होते हैं जो वेब पेज (web page) डिजाइन करते हैं। वे विभिन्न प्रोग्रामिंग भाषाओं (programming languages) में प्रोग्राम (Program) कहे जाने वाले कोड (Code) की एक श्रृंखला (series) लिखते हैं। 

एक वेब डेवलपर (Web Developer) का काम बेहद कठिन होता है क्योंकि उन्हें एक भाषा (Language) लेने की जरूरत होती है, जैसे कि अंग्रेजी (English), और इसे कंप्यूटर (Computer) की समझ में आने वाली भाषा (Language) जैसे HTML या Python में बदलना होगा। 

Social Media Marketing

सोशल मीडिया मार्केटिंग (Social Media Marketing) भारत में नए पाठ्यक्रमों (Courses) में से एक है, फिर भी इस क्षेत्र में पेशेवरों (professionals) की मांग (demand) तेजी से बढ़ रही है। यह डिजिटल मार्केटिंग (Digital Marketing) का एक प्रमुख हिस्सा है जो लक्षित दर्शकों (Target Audience) से जुड़ने, एक ब्रांड (Brand) बनाने, वेबसाइट ट्रैफ़िक (Website Traffic) बढ़ाने, लीड उत्पन्न (Lead Generate) करने, बिक्री बढ़ाने (Increase Sales) आदि के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म (Social Media Platforms) से संबंधित है। 

कुछ शीर्ष सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म (Social Media Platforms) जो एक बड़ी भूमिका (Huge Role) निभाते हैं। इस क्षेत्र में फेसबुक (Facebook), यूट्यूब (Youtube), ट्विटर (Twitter), पिंटरेस्ट (Pinterest), लिंक्डइन (LinkedIn), इंस्टाग्राम (Instagram) आदि शामिल हैं।

सोशल मीडिया मार्केटिंग पेशेवर (Social Media Marketing professional) की मुख्य भूमिका (Role) आपकी कंपनी (Company) के विभिन्न सोशल मीडिया प्रोफाइल (social media profiles) पर सामग्री (Content) प्रकाशित (Publish) करना, उन ग्राहकों (Clients) को सुनना और उनसे जुड़ना (Engage) है जो इन प्लेटफार्मों (Platforms) पर आपकी कंपनी (Company) के खातों (Accounts) का अनुसरण (Follow) करते हैं, सोशल मीडिया विज्ञापन (Social Media Ads) चलाते हैं, परिणामों का विश्लेषण (Analyze results) करते हैं, आदि। 

इसके अलावा, आप विभिन्न सोशल मीडिया प्रबंधन टूल (Social Media Management Tools) का उपयोग करने की आवश्यकता है ताकि आप अपनी कंपनी (Company) को इन प्लेटफार्मों (Platforms) का अधिकतम लाभ उठाने में मदद कर सकें। 

Programming

प्रोग्रामिंग (Programming) मनुष्यों को कंप्यूटर (Computer) के साथ सहयोग (collaborate) करने की अनुमति देता है और बाद वाले को कई कार्य (Task) करने के निर्देश (Instruction) देता है। कंप्यूटर (Computer) को निर्देशों (Instructions) का कोई भी सेट देते समय डेवलपर्स (Developers) द्वारा प्रोग्रामिंग भाषाओं (Programming languages) का उपयोग किया जाता है ताकि सिस्टम (System) दिए गए निर्देश (Instruction) को समझ सकें और कोड (Code) को निष्पादित (Execute) करके आवश्यक एप्लिकेशन (Application) बना सकें। 

डेवलपर्स (Developers) प्रोग्राम (Program) के लिए विभिन्न भाषाओं (Languages) का उपयोग करते हैं, कुछ फ्रंटएंड (frontend) के लिए उपयोगकर्ता के अनुकूल इंटरफेस (user-friendly interface) की पेशकश करते हैं जबकि अन्य बैकएंड (Backend) के लिए आवश्यक जानकारी संग्रहीत (Store) करने के लिए।

प्रोग्रामिंग (Programming) पेशेवरों (professionals) को विभिन्न व्यावसायिक समस्याओं (business problems) को हल करने की अनुमति देता है। इसके माध्यम से, वे प्रोग्राम (Program) को कोड (Code) कर सकते हैं जो उन्हें एक विशिष्ट तरीके (specific manner) से कार्य करने की अनुमति देगा और कई व्यावसायिक मुद्दों (business issues) को दूर करने में मदद करेगा जो पहले हल करना असंभव (impossible) लग रहा था। 

HTML, PHP, Python, Java, JavaScript, C, C++, SQL, सहित प्रोग्रामिंग कौशल (Programming Skills) हासिल करने के लिए आप कई प्रोग्रामिंग भाषाएं (Programming Languages) चुन सकते हैं जिनसे आप सीख सकते हैं। 

Foreign Language

एक विदेशी भाषा (foreign language) सीखना हमेशा चुनौतीपूर्ण (challenging) और भारी हो सकता है, फिर भी दिलचस्प (interesting) हो सकता है। यह आपके रेज़्यूमे (Resume) में value भी जोड़ सकता है। 

भाषा (Language) बातचीत करने, अपने संदेश (message) की व्याख्या (explain) करने और विभिन्न पृष्ठभूमि (backgrounds) और संस्कृतियों (cultures) के लोगों के साथ संवाद (Conversation) करने के सबसे सुविधाजनक (convenient) और आसान (Easy) तरीकों में से एक है। 

यात्रा (Traveling) के दौरान, विदेश (Abroad) में उच्च अध्ययन (Higher Studies) के लिए जाते समय व्यक्ति अक्सर विदेशी भाषा (Foreign Language) की मूल बातें सीखते हैं, और इसी तरह वहां के लोगों को समझने(understand) और संवाद (communicate) करने के लिए।

संचार (Communication) विभिन्न समाजों (Societies) और पारंपरिक पृष्ठभूमि (traditional backgrounds) के लोगों को एक साथ लाता है और भाषा (Language) इसका माध्यम (medium) है। इस आधुनिक युग (modern era) में, जर्मन (German), स्पेनिश (Spanish), फ्रेंच (French), आदि जैसी नई भाषाएं (Languages) सीखना बेहद उपयोगी (useful) हो सकता है, खासकर दुनिया भर के ग्राहकों (clients) के साथ व्यवहार (dealing) करते समय। 

प्रौद्योगिकी (Technologies) और अन्य पाठ्यक्रम (Courses) किसी दिन उपयोगी (useful) नहीं हो सकते हैं, लेकिन एक नई भाषा (New Language) जानना हमेशा उपयोगी (useful) हो सकता है, चाहे आप किसी भी युग (era) में रहते हों। 

Conclusion

Top online courses for Entrepreneurs

लिंक्डइन (LinkedIn) पर पोस्ट की गई नौकरियों (Jobs) के अनुसार, इन डोमेन (Domains) में प्रवेश स्तर (Entry Level) और अनुभवी पेशेवरों (experienced professionals) दोनों के लिए 18,000 से अधिक नौकरियां (Jobs) उपलब्ध हैं। इसलिए, यदि आप भारत में ऑनलाइन कोर्स (Online Course) करने की तलाश में हैं, तो ये Courses आपके लिए सबसे अच्छे विकल्प हैं।

 

Related Searches:

Top online courses for entrepreneurs in India, best online courses in India, best online course platforms in India, best online course for data science, top online courses in India, top online course platforms in India, top online courses for data science, best online courses for entrepreneurs, top online courses websites in India, best online courses websites in India, free online courses with certificates in India, best online courses with certificates in India, top online courses with certificates in India

Post a Comment

0 Comments